Home Blog Page 78

Final stage counseling will be decided after admission of management quota


Updated: | Mon, 26 Oct 2020 01:30 PM (IST)

रायपुर। Admission In Engineering Colleges: प्रदेश के सरकारी और निजी कालेज की इंजीयनिरिंग सीटों में खाली लगभग आठ हजार सीटों में से प्रबंधन कोटे के दाखिले के बाद अंतिम चरण की काउंसलिंग तय हो पाएगी। सरकारी कालेज सहित निजी कालेज की काउंसलिंग प्रक्रिया 21 को ख़त्म हो गई है। संचालनालय तकनीकी शिक्षा की वेबसाइट पर अपलोड सूची के अनुसार प्रदेश भर के शासकीय व निजी कालेजों में 8421 सीटें खाली रह गईं। प्रबंधन कोटे के तहत 15 फीसद सीटों पर दाखिले की प्रक्रिया शुरू हो गई है। लगभग 1263 सीटों पर प्रबंधन कोटे से दाखिला के बाद ही बची सीटों की काउंसलिंग को लेकर निर्णय लिया जाएगा, जो कि नवंबर में आन द स्पाट की प्रक्रिया शेष 7158 सीटों के लिए होगी। जिसमे छात्रों को एक कालेज का विकल्प मिलेगा।

सीट आवंटन के बाद नहीं लिया दाखिला

संयुक्त संचालक डा.अजय गर्ग कि माने तो 20 अक्टूबर तक 3579 सीटों पर दाखिला हुआ। राजधानी के शासकीय इंजीनियरिंग कालेज में पांचों ब्रांच मिलाकर 294 सीटें हैं, जिनमें से 70 खाली हैं। जबकि छात्रों को प्रथम चरण में सीट आवंटन हो गए थे, लेकिन कई छात्र फीस नहीं भरे। जिसकी वजह से सीट खाली रह गई है। सबसे अधिक इलेक्ट्रानिक टेलीकम्यूनिकेशन की 22 सीटें खाली हैं। सबसे अधिक मांग वाली ब्रांच कंप्यूटर इंजीनियरिंग की 16 सीटें खाली हैं। यह स्थिति लगभग सभी इंजीयनिरिंग कालेजों की है।

दिसंबर में खुलेगा कालेज

अखिल भारतीय तकनीकी परिषद ने नया शैक्षणिक कैलेंडर जारी कर दिया है। इसके आधार पर काउंसिलिंग की प्रक्रिया नवंबर तक की जा सकती है। ज्ञात हो कि कई राज्यों में अभी तक इंजीनियरिंग कालेज में प्रक्रिया शुरू नहीं हो पाई है। यदि खाली सीटों को भरने के लिए आन द स्पाट दाखिले की प्रक्रिया शुरू हुई तो दिसंबर में कालेज खुल सकते हैं।

Posted By: Himanshu Sharma

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020

 



Source link

AstraZeneca COVID-19 Vaccine shows effective results in elderly people


नई दिल्ली। कोरोना वायरस महामारी के बीच इसके इलाज या रोकथाम के बारे में किसी उपाय का इंतजार करने वालों के लिए अच्छी खबर है। एक रिपोर्ट में दावा किया गया है कि कोरोना वायरस (कोविड-19) बीमारी का मुकाबला करने के लिए ब्रिटिश नेशनल फार्मास्यूटिकल एस्ट्राजेनेका वैक्सीन ने बुजुर्गों में एक मजबूत प्रतिरक्षा प्रतिक्रिया (इम्यून रिस्पॉन्स) दिखाई है।

फाइनेंशियल टाइम्स की रिपोर्ट में दो अज्ञात लोगों का पता लगाने का हवाला देते हुए कहा गया है कि कंपनी जिस वैक्सीन का निर्माण कर रही है, उससे अधिक आयु वर्ग के लोगों में सुरक्षात्मक एंटीबॉडी और टी-सेल्स का उत्पादन हुआ है। एस्ट्रोजेनेका ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय के सहयोग से वैक्सीन का उत्पादन कर रहा है।

रिपोर्ट आगे कहा गया कि बड़े प्रतिभागियों के एक वर्ग पर लिए गए इम्यूनोजेनेसिटी ब्लड टेस्ट के निष्कर्ष और जुलाई के महीने में जारी डेटा से पता चला कि यह टीका 18-55 वर्ष की आयु के बीच स्वस्थ वयस्कों में ‘मजबूत प्रतिरक्षा प्रतिक्रिया’ उत्पन्न करने में सक्षम पाया गया था। महामारी के बढ़ते दायरे के बीच एस्ट्राजेनेका, फाइजर और मॉडर्ना दुनिया भर में कोविड-19 वैक्सीन का उत्पादन करने वाली अग्रणी कंपनियों में से हैं।

एस्ट्राजेनेका को अमरीकी नियामकों द्वारा, एक स्वयंसेवक के बीमार होने की खबरों के बीच एक महीने से अधिक समय तक देश में इसके परीक्षणों को फिर से शुरू करने की अनुमति दे दी गई है। एस्ट्राज़ेनेका और ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय द्वारा जारी बयानों के अनुसार अमरीकी खाद्य और औषधि प्रशासन ने शुक्रवार को इसे फिर से परीक्षण शुरू करने के लिए अधिकृत किया।

गौरतलब है कि जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी के ट्रैकर द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार फिलहाल दुनिया भर में कोरोना वायरस के कुल मामले 4.3 करोड़ के पास पहुंचने वाले हैं। फिलहाल दुनिया में कुल मामलों की संख्या 4,29,23,311 है, जिनमें से 11,52,978 लोगों ने कोरोना संक्रमण के कारण दम तोड़ दिया है।












Source link

Dusshahra 2020: मिट्टी के रावण का वध कर असत्य पर सत्य की जीत का पर्व मना रहे यहां के ग्रामीण



Dusshahra 2020: भारी भीड़ के चलते लोगों द्वारा अमृत लूट के दौरान रावण की मूर्ति टूट कर बिखर जाती है।



Source link

Lucknow UP Police Success Baghpat Iron Trader Kidnapping Found Escapee – यूपी पुलिस को एक बड़ी कामयाबी, बागपत के अगवा लोहा व्यापारी को बदमाशों से छुड़ाया


यूपी पुलिस को एक बड़ी कामयाबी हासिल हुई। बागपत जिले के बड़ौत शहर के अगवा लोहा व्यापारी को बागपत पुलिस ने सकुशल छुड़ा लिया।

लखनऊ. यूपी पुलिस को एक बड़ी कामयाबी हासिल हुई। बागपत जिले के बड़ौत शहर के अगवा लोहा व्यापारी को बागपत पुलिस ने सकुशल छुड़ा लिया। बागपत पुलिस ने भारी घेराबंदी कर अगवा व्यापारी को यूपी-हरियाणा सीमा से बरामद किया गया। मेरठ आईजी प्रवीण कुमार ने इस खबर की पुष्टि की है।

बागपत जिले के बड़ौत शहर में सोमवार को बदमाशों ने सुबह पांच बजे लोहा व्यापारी का अपहरण कर लिया। फिर बदमाशों ने फोन कर व्यापारी के परिजनों से एक करोड़ रुपए की फिरौती मांगी है। अपहरण की सूचना से पुलिस प्रशासन के भी हाथ पांव फूल गए। एसपी अभिषेक सिंह एएसपी मनीष कुमार मिश्र के साथ व्यापारी के घर पहुंचे। और परिजनों से घटना की पूर जानकारी हासिल की। इस बीच आइजी मेरठ रेंज प्रवीण कुमार घटनास्थल पर पहुंचे और पीड़ितों से बातचीत की।

इसके बाद पुलिस ने बदमाशों की घेराबंदी शुरू कर दी है। सात-आठ घंटें की कड़ी मेहनत के बाद पुलिस ने अगवा लोहा व्यापारी को यूपी-हरियाणा सीमा से बरामद किया। मेरठ के आईजी प्रवीण कुमार ने इस बरामदगी की पुष्टि की है। इस वक्त लोहा व्यापारी से पूछताछ कर बदमाशों के सुराग हासिल किए जा रहे हैं।






Show More















Source link

Korba News: नाले को पार करते वक्त दलदल में फंसा हाथी का बच्चा, मदद न मिलने से हो गई मौत



Korba News: इस घने वन परिक्षेत्र में हाथियों के कई कड़े दल स्वच्छंद विचरण करते रहते हैं।



Source link