Home Blog

Raipur News: बेमेतरा जिले में 33 पुरुषों ने कराई नसबंदी


Publish Date: | Fri, 04 Dec 2020 06:41 AM (IST)

बेमेतरा(नईदुनिया न्यूज)। पुरुष नसबंदी पखवाड़े के सेवा वितरण सप्ताह में जिले में अब तक 33 पुरुषों ने नसबंदी कराई है, वहीं नसबंदी पखवाड़े को लेकर जारी मोर मितान मोर संगवारी चौपाल कार्यक्रम से प्रेरित होकर लगभग 15 लोगों ने नसबंदी कराने के लिए सहमति प्रदान की है। इन लोगों की एनएसवी आने वाले दिनों में की जाएगी। पुरूष नसबंदी पखवाड़े के दौरान ग्रामीणों के बीच समूह चर्चा के माध्यम से पुरुष नसबंदी के प्रति फैली भ्रांतियों और मिथकों को भी दूर किया जा रहा है।

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डा. एसके शर्मा ने बताया कि पुरुष नसबंदी पखवाड़े के दौरान दंपती संपर्क अभियान 21 से 27 नवंबर तक प्रचार-प्रसार के लिए चलाया गया था। इसके बाद द्वितीय चरण में 28 नवंबर से 04 दिसंबर तक सेवा वितरण सप्ताह चलाया जा रहा है जिसमें पुरूषों को नसबंदी की सेवा प्रदान की जा रही है। जिले में पखवाड़े के दूसरे सप्ताह में नसबंदी शिविर शासकीय जिला अस्पताल बेमेतरा में भी आगामी दिनों में आयोजित करने की तैयारी की जा रही है। सीएमएचओ ने बताया कि अब तक सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बेरला में 22 एनएसवी व सिविल अस्पताल साजा में 11 एनएसवी की गई है । पुरूष नसबंदी परिवार नियोजन के स्थाई साधनों में से एक है। पखबाड़े के दौरान लोगों को नसबंदी के बारे में जागरूक करने के लिए पहले नसबंदी करा चुके पुरुष भी आगे आकर अपने अनुभव लोगों से साझा कर रहे हैं।

डा. शर्मा ने बताया कि मोर मितान मोर संगवारी चौपाल में पूर्व में नसबंदी कराने वाले पुरुषों को प्रशस्ति पत्र भी बांटे जा रहे हैं। बेमेतरा जिला में पिछले वर्ष 145 पुरुषों द्वारा एनएसवी कराई गई थी। पहले नसबंदी की सेवा ले चुके ग्रामीणों ने अपने अनुभव साझा कर नसबंदी के प्रति फैले भ्रम को गलत बताया। उन्होंने बताया, नसबंदी कराने से पुरुषों में किसी प्रकार की कोई कमजोरी नहीं आती है। हम पहले की ही तरह एकदम सामान्य जीवन जी सकते हैं।

पुरुष नसबंदी पखवाड़े में लोगों ने जागरुकता का परिचय देते हुए नसबंदी करवाकर परिवार नियोजन के स्थाई साधन को अपनाया है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा प्रजनन स्वास्थ्य में सुधार और परिवार नियोजन में पुरुषों की भागीदारी बढ़ाने के लिए 21 नवंबर से 4 दिसंबर के बीच प्रदेश में दो चरणों में पुरुष नसबंदी पखवाड़ा मनाया जा रहा है। मोबिलाइजेशन सप्ताह में जनसंख्या स्थिरीकरण में पुरुषों की भागीदारी बढ़ाने व राज्य में एनएसवी कार्यक्रम को सुचारू ढंग से संचालित करने के लिए एनएसवी के लिए पुरुषों को जागरूक किया जा रहा है। मोर मितान-मोर संगवारी के तहत गोष्ठियों को आयोजित कर पुरुषों को नसबंदी के लिए प्रेरित किया गया। इसके लिए ऐसे गांवों का चयन किया गया जहां दो या दो से अधिक बधाों वाले दम्पति ज्यादा थे। समूह चर्चा के माध्यम से उन्हें छोटे परिवार के फायदों के बारे में बताया जा रहा है।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 



Source link

KMF Will Purchase One Lakh Ton Maize – एक लाख टन मक्का खरीदेगा केएमएफ


15 हजार रुपए प्रति टन के मूल्य पर लगभग 1 लाख टन मक्का खरीदा जाएगा

बेंगलूरु. कर्नाटक दुग्ध उत्पादक महासंघ (केएमएफ) ने किसानों से मक्का खरीदने का फैसला किया है। केएमएफ के अध्यक्ष बालचंद्र जारकीहोली ने यह जानकारी देते हुए कहा कि 15 हजार रुपए प्रति टन के मूल्य पर लगभग 1 लाख टन मक्का खरीदा जाएगा। इस प्रस्ताव को केएमएफ के निदेशकों की बैठक में मंजूरी मिली है।उन्होंने कहा कि जनवरी माह के तीसरे सप्ताह तक मक्का खरीदने की प्रक्रिया पूरी की जाएगी।

इस फैसले से उत्तर कर्नाटक तथा कल्याण कर्नाटक के मक्का उत्पादक किसानों को काफी राहत मिलेगी। राज्य के विभिन्न जिलों में स्थित केएमएफ के 5 पशु आहार इकाइयों में प्रति वर्ष 6 से 7 लाख टन पशु आहार का उत्पादन होता है।इन इकाइयों के लिए प्रति वर्ष 3 लाख टन मक्के की आवश्यकता है। इस आवश्यकता को पूरी करने के लिए केएमएफ मक्का उत्पादक किसानों से सीधे मक्के की खरीदी करता है।पशु आहार में 35 फीसदी मक्के का उपयोग किया जाता है।

विश्वनाथ के आरोपों की उच्चस्तरीय जांच हो : कांग्रेस

बेंगलूरु. प्रदेश कांग्रेस ने विधान पार्षद एच विश्वनाथ के हूणसूर विधानसभा उपचुनाव में भाजपा के विधान पार्षद सीपी योगेश्वर तथा मुख्यमंत्री के राजनीतिक सचिव एन आर संतोष पर पार्टी फंड के दुरुपयोग के आरोपों की उच्च स्तरीय जांच की मांग की है।पार्टी के प्रवक्ता बीएल शंकर ने कहा कि इस मामले में आरोपों की अनदेखी नहीं की जा सकती। विश्वनाथ राजनीति में 4 दशकों से सक्रिय हैं।

उनके आरोपों को हल्के में नहीं लिया जा सकता है। भाजपा सरकार को इस मामले की जांच के आदेश देने चाहिए।उन्होंने कहा कि विश्वनाथ ने योगेश्वर तथा संतोष पर पार्टी की ओर से चुनाव खर्चे के लिए मिली रकम हड़पने का आरोप लगाया है। इस आरोप को लेकर भाजपा को अपनी भूमिका स्पष्ट करनी चाहिए। पार्टी के नेता पूर्व मंत्री एचएम रेवण्णा, पूर्व सांसद वीएस उग्रप्पा उपस्थित थे।









Source link

Raipur News: छत्तीसगढ़ ने पहले चरण में मांगे दो लाख 10 हजार कोरोना वैक्सीन


Publish Date: | Fri, 04 Dec 2020 04:00 AM (IST)

रायपुर। नईदुनिया, राज्य ब्यूरो

छत्तीसगढ़ सरकार ने पहले चरण में दो लाख दस हजार कोरोना वैक्सीन की मांग की है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने पहले चरण में फ्रंट लाइन वर्कर स्वास्थ्यकर्मियों को वैक्सीन लगाने की तैयारी की है। इसको लेकर एक पोर्टल तैयार किया गया है, जिसमें स्वास्थ्य कर्मियों का डाटा अपलोड किया जा रहा है। प्रदेश में अब तक दो लाख तीन हजार स्वास्थकर्मियों, डाक्टर, नर्स, मितानिन और आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं का डाटा अपलोड किया गया है। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने बताया कि कुछ प्राइवेट अस्पताल और छोटे डाक्टरों का पंजीयन बाकी है। ऐसे में दो लाख दस हजार कोरोना वैक्सीन की पहले चरण में प्रदेश को जरूरत पड़ेगी।

वहीं, मुख्य सचिव अमिताभ जैन की अध्यक्षता में गुरुवार को मंत्रालय महानदी भवन में कोविड-19 टीकाकरण के सफल क्रियान्वयन के लिए गठित राज्य स्तरीय स्टेरिंग कमेटी की पहली बैठक हुई। वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से आयोजित बैठक में टीकाकरण के संबंध में अपनाई जाने वाली प्रकिया और कार्ययोजना के संबंध में चर्चा की गई। मुख्य सचिव ने टीकाकरण के लिए सभी जरूरी मार्गदर्शन और गाइडलाईन मैदानी स्थल पर तैनात टीकाकरण कर्मियों तक पहुचाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि टीकाकरण के लिए प्राथमिकता के आधार पर समूहों का निर्धारण किया जाए और सर्वे के माध्यम से जानकारी संकलित की जाए। बैठक में एसीएस रेणु पिल्ले, सुब्रत साहू सहित अन्य मौजूद थे।

कोल्ड चेन को सुरक्षित बनाने 24 घंटे उपलब्ध होगी बिजली

सीएस जैन ने वैक्सीन को सुरक्षित रखने के लिए मैदानी स्थल पर कोल्डचेन प्वाइंट का चिंहाकन करने और उनकी सूची ऊर्जा विभाग को देने के निर्देश दिए। उन्होंने ऊर्जा विभाग के आधिकारियों को कहा कि सभी कोल्डचेन प्वाइंट पर बिजली की उपलब्धता 24 घंटे रहे। मुख्यसचिव ने टीकाकरण के बाद होने वाले प्रतिकूल प्रभाव के प्रबंधंन के लिए राज्य स्तर पर कंट्रोल रूम बनाने का निर्देश दिया।

मेडिकल वेस्ट के प्रबंधन का जिम्मा नगरीय निकायों को

जैन ने वैक्सीन की सुरक्षा के साथ ही टीकाकरण केंद्र के आसपास के क्षेत्र को संक्रमण मुक्त रखने के लिए जरूरी उपाय करने के नगरीय प्रशासन विभाग को निर्देश दिए। टीकाकरण केंद्रों से टीकाकरण के बाद निकले बायोमेडिकल वेस्ट को सुरक्षित तरीके से समाप्त करने की तैयारी की भी समीक्षा की।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 



Source link

Korba News: एनटीपीसी ने 13 दिव्यांगजनों को प्रदान किए कृत्रिम अंग


Publish Date: | Thu, 03 Dec 2020 10:01 PM (IST)

कोरबा (नईदुनिया न्यूज)। विश्व दिव्यांगता दिवस पर एनटीपीसी ने 13 दिव्यांगों को कृत्रिम अंग प्रदान किया। इस दौरान एनटीपीसी के कार्यकारी निदेशक अश्विनी कुमार त्रिपाठी विशेष रूप से उपस्थित रहे।

एनटीपीसी में आयोजित कार्यक्रम में कार्यकारी निदेशक त्रिपाठी ने कहा कि सन 1992 में संयुक्त राष्ट्र में दिव्यांग लोगों की परेशानियों को दूर करने तथा उनके अधिकार एवं विकास के प्रति विश्व व्यापी लोगों को जागरूक करने की उद्धेश्य से तीन दिसंबर को यह दिन मनाया जाता है। एनटीपीसी ने दिव्यांग लोगों के कल्याण के लिए कई कदम उठाया है। नैगम सामाजिक दायित्व के अंतर्गत उनके कल्याण के लिए एनएफएनडीआरसी के माध्यम से कृत्रिम अंग प्रदान करने के साथ उनके सामाजिक एवं आर्थिक विकास के लिए उनको मदद किया जाता है। आसपास 10 जिले के लोगों इस प्रतिष्ठान से लाभान्वित हुए है। कृत्रिम अंग के साथ दिव्यांगों की काउंसलिंग , राज्य व केंद्र सरकार की योजनाएं , बस एवं रेल रियायत प्रमाण पत्र, दिव्यांग प्रमाण पत्र आदि बनाने की सेवाएं प्रदान की जा रही है। उपस्थित दिव्यांगों को संबोधित करते हुए त्रिपाठी ने सभी दिव्य जनों की हौसला अफजाई करते हुए दिव्यांगता के साथ समाज में आगे बढ़ने प्रेरित किया। उन्होंने उम्मीद जताई कि कृत्रिम अंग के उपयोग से उनके जीवन में खुशियां आएगी। कृत्रिम अंग के साथ साथ सभी दिव्यांगो को एनटीपीसी अस्पताल की और से उपहार भी प्रदान किया गया। त्रिपाठी ने बताया कि एनटीपीसी की सभी कार्यालय दिव्यांगो के अनुकूल है और दिव्यांग कर्मचारियों को दी जा रही विशेष सुविधा की भी जानकारी प्रदान की। इस अवसर पर उन्होंने दिव्यांग पुनर्वास केंद्र का निरीक्षण किया और इसकी रखरखाव के प्रति संतोष व्यक्त किया। इस अवसर पर पुनर्वास केंद्र के समीप बनाया जा रहा औषधीय बगीचा में पौधा रोपण किया। कार्यक्रम में एएम रघुराम, महाप्रबंधक प्रचालन एवं अनुरक्षण, बीके मिश्रा महाप्रबंधक चिकित्सा, पी रामप्रसाद महाप्रबंधक अनुरक्षण, भानु सामंता महाप्रबंधक मैकानिकल मैंटेनेंस, एसएस झा महाप्रबंधक तकनीकी सेवाएं, एसके केशकर महाप्रबंधक ऐश डाइक प्रबंधन, ललित रंजन मोहंती महाप्रबंधक प्रचालन, कल्पना प्रकाश टाइडे वरिष्ठ विशेषज्ञ चिकित्सा, यूनियन एवं एसोशिएशन के पदाधिकारी उपस्थित रहे।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 



Source link

Bangalore City Have More Than 81 Lakh Voters – शहर में बढ़े ८ लाख मतदाता, ८१ लाख हुई संख्या


पालिका की वेबसाइट पर सूची

बेंगलूरु. राज्य चुनाव आयोग के निर्देशों के तहत बृहद बेंगलूरु महानगर पालिका (बीबीएमपी) ने वर्ष 2011 की जनगणना के आधार पर शहर के मतदाताओं की सूची तैयार कर यह सूची बीबीएमपी की वेबसाइट पर जारी की गई है।वर्ष 2015 की सूची की तुलना में इस सूची में शहर के 198 वार्डों में 8 लाख नए मतदाता शामिल किए गए हंै।

अब शहर में मतदाताओं की संख्या 81 लाख 31 हजार 723 तक पहुंच गई है। जिसमें 42,32,632 पुरुष, 38,97,694 महिला तथा १,397 अन्य मतदाता हैं।बीबीएमपी के आयुक्त एन.मंजुनाथ प्रसाद के मुताबिक राज्य चुनाव आयोग के निर्देशों के तहत शहर के 198 वार्र्ड के मतदाताओं की सूची वेबसाइट पर जारी की गई है।

विभिन्न वार्डों के मतदाता बीबीएमपी की वेबसाइट पर या स्थानीय वार्ड कार्यालय में संपर्क कर इस सूची में अपना नाम शामिल हैं या नहीं इस बात की तसल्ली कर सकते हैं।शहर के सभी वार्ड कार्यालय में मतदाताओं की सूची उपलब्ध है। अभी इस सूची में जिन मतदाताओं का नाम नहीं है। ऐसे लोगों के नाम बीबीएमपी के चुनाव घोषित होने के पश्चात प्रत्याशियों के नामांकन पत्र दाखिल करने की प्रक्रिया पूरी होने तक इस सूची में शामिल किए जा सकते हैं।

उधर, राज्य सरकार ने बीबीएमपी के मौजूदा वार्डों का पुनर्गठन कर वार्डों की संख्या 198 से बढ़ाकर 243 वार्ड का गठन करने के लिए एक उच्च स्तरीय समिति का गठन किया है। आनेवाले दिनों में अगर शहर के वार्डों का पुनर्गठन किया जाता है। तो बीबीएमपी को फिर एक बार नए वार्डों के अनुसार मतदाता सूची जारी करनी होगी।ऐसे में अभी जारी की गई यह सूची पर किया गया खर्चा व्यर्थ होने के आसार नजर आ रहे हैं।

उल्लेखनीय है कि कांग्रेस के नेता पूर्व मंत्री ने रामलिंगा रेड्डी ने हाल में आरोप लगाया है कि शहर के वार्डों के पुनर्गठन राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के इशारों पर किया जा रहा है। वार्डों का पुनर्गठन का प्रस्ताव बीबीएमपी के चुनाव टालने का एक बहाना है। इस बहाने से चुनाव टालकर भाजपा के नेता परोक्ष रूप से बीबीएमपी में सत्ता चलाना चाहते है।











Source link